Saturday, July 21, 2018

अग्नि-समाधि - मुंशी प्रेमचंद








साधु-संतों के सत्संग से बुरे भी अच्छे हो जाते हैं, किन्तु पयाग का दुर्भाग्यथा, कि उस पर सत्संग का उल्टा ही असर हुआ। उसे गाँजे, चरस और भंग का चस्का पड़ गया, जिसका फल यह हुआ कि एक मेहनती, उद्यमशील युवक आलस्य का उपासक बन बैठा। जीवन-संग्राम में यह आनन्द कहाँ ! किसी वट-वृक्ष के नीचे धूनी जल रही है, एक जटाधारी महात्मा विराज रहे हैं, भक्तजन उन्हें घेरे बैठे हुए हैं, और तिल-तिल पर चरस के दम लग रहे हैं। बीच-बीच में भजन भी हो जाते हैं। मजूरी-धातूरी में यह स्वर्ग-सुख कहाँ ! चिलम भरना पयाग का काम था। भक्तों को परलोक में पुण्य-फल की आशा थी, पयाग को तत्काल फल मिलता था , चिलमों पर पहला हक उसी का होता था। महात्माओं के श्रीमुख से भगवत् चर्चा सुनते हुए वह आनंद से विह्वल हो उठता था, उस पर आत्मविस्मृति-सी छा जाती थी। वह सौरभ, संगीत और प्रकाश से भरे हुए एक दूसरे ही संसार में पहुँच जाता था। इसलिए जब उसकी स्त्री रुक्मिन रात के दस-ग्यारह बज जाने पर उसे बुलाने आती, तो पयाग को प्रत्यक्ष क्रूर अनुभव होता, संसार उसे काँटों से भरा हुआ जंगल-सा दीखता, विशेषत: जब घर आने पर उसे मालूम होता कि अभी चूल्हा नहीं जला और चने-चबेने की कुछ फिक्र करनी है। वह जाति का भर था, गाँव की चौकीदारी उसकी मीरास थी, दो रुपये और कुछ आने वेतन मिलता था। वरदी और साफा मुफ्त। काम था सप्ताह में एक दिन थाने जाना, वहाँ अफसरों के द्वार पर झाडू लगाना, अस्तबल साफ करना, लकड़ी चीरना। पयाग रक्त के घूँट पी-पी कर ये काम करता, क्योंकि अवज्ञा शारीरिक और आर्थिक दोनों ही दृष्टि से महँगी पड़ती थीं। आँसू यों पुछते थे कि चौकीदारी में यदि कोई काम था, तो इतना ही, और महीने में चार दिन के लिए दो रुपये और कुछ आने कम न थे। फिर गाँव में भी अगर बड़े आदमियों पर नहीं, तो नीचों पर रोब था। वेतन पेंशन थी और जब से महात्माओं का सम्पर्क हुआ, वह पयाग के जेब-खर्च की मद में आ गयी। अतएव जीविका का प्रश्न दिनोंदिन चिन्तोत्पादक रूप धारण करने लगा। इन सत्संगों के पहले यह दम्पति गाँव में मजदूरी करता था। रुक्मिन लकड़ियाँ तोड़ कर बाजार ले जाती, पयाग कभी आरा चलाता, कभी हल जोतता, कभी पुर हाँकता। जो काम सामने आ जाए, उसमें जुट जाता था। हँसमुख, श्रमशील, विनोदी, निर्द्वन्द्व आदमी था और ऐसा आदमी कभी भूखों नहीं मरता। उस पर नम्र इतना कि किसी काम के लिए 'नहीं' न करता। किसी ने कुछ कहा और वह 'अच्छा भैया' कह कर दौड़ा। इसलिए उसका गाँव में मान था। इसी की बदौलत निरुद्यम होने पर भी दो-तीन साल उसे अधिक कष्ट न हुआ। दोनों जून की तो बात ही क्या, जब महतो को यह ऋध्दि न प्राप्त थी, जिनके द्वार पर बैलों की तीन-तीन जोड़ियाँ बँधाती थीं, तो पयाग किस गिनती में था। हाँ, एक जून की दाल-रोटी में संदेह न था। परन्तु अब यह समस्या दिन पर दिन विषमतर होती जाती थी। उस पर विपत्ति यह थी कि रुक्मिन भी अब किसी कारण से उसकी पतिपरायण, उतनी सेवाशील, उतनी तत्पर न थी। नहीं, उतनी प्रगल्भता और वाचालता में आश्चर्यजनक विकास होता जाता था। अतएव पयाग को किसी ऐसी सिध्दि की आवश्यकता थी, जो उसे जीविका की चिंता से मुक्त कर दे और वह निश्चिंत हो कर भगवद्भजन और साधु-सेवा में प्रवृत्ता हो जाए। एक दिन रुक्मिन बाजार में लकड़ियाँ बेच कर लौटी, तो पयाग ने कहा —ला, कुछ पैसे मुझे दे दे, दम लगा आऊँ। रुक्मिन ने मुँह फेर कर कहा —दम लगाने की ऐसी चाट है, तो काम क्यों नहीं करते ? क्या आजकल कोई बाबा नहीं हैं, जा कर चिलम भरो ? पयाग ने त्योरी चढ़ा कर कहा —भला चाहती है तो पैसे दे दे; नहीं तो इस तरह तंग करेगी, तो एक दिन कहीं चला जाऊँगा, तब रोयेगी। रुक्मिन अँगूठा दिखा कर बोली — रोये मेरी बला। तुम रहते ही हो, तो कौन सोने का कौर खिला देते हो ? अब भी छाती फाड़ती हूँ, तब भी छाती फाड़ूँगी। 'तो अब यही फैसला है ?' 'हाँ-हाँ, कह तो दिया, मेरे पास पैसे नहीं हैं।' 'गहने बनवाने के लिए पैसे हैं और मैं चार पैसे माँगता हूँ, तो यों जवाब देती है !' रुक्मिन तिनक कर बोली — गहने बनवाती हूँ, तो तुम्हारी छाती क्यों फटती है ? तुमने तो पीतल का छल्ला भी नहीं बनवाया, या इतना भी नहीं देखा जाता ? पयाग उस दिन घर न आया। रात के नौ बज गये, तब रुक्मिन ने किवाड़ बंद कर लिये। समझी, गाँव में कहीं छिपा बैठा होगा। समझता होगा, मुझे मनाने आयेगी, मेरी बला जाती है। जब दूसरे दिन भी पयाग न आया, तो रुक्मिन को चिंता हुई। गाँव भर छान आयी। चिड़िया किसी अव्े पर न मिली। उस दिन उसने रसोई नहीं बनायी। रात को लेटी भी तो बहुत देर तक आँखें न लगीं। शंका हो रही थी, पयाग सचमुच तो विरक्त नहीं हो गया। उसने सोचा, प्रात:काल पत्ता-पत्ता छान डालूँगी, किसी साधु-संत के साथ होगा। जा कर थाने में रपट कर दूँगी। अभी तड़का ही था कि रुक्मिन थाने में चलने को तैयार हो गयी। किवाड़ बंद करके निकली ही थी कि पयाग आता हुआ दिखाई दिया। पर वह अकेला न था। उसके पीछे-पीछे एक स्त्री भी थी। उसकी छींट की साड़ी, रँगी हुई चादर, लम्बा घूँघट और शर्मीली चाल देख कर रुक्मिन का कलेजा धक्-से हो गया। वह एक क्षण हतबुद्धि-सी खड़ी रही, तब बढ़ कर नयी सौत को दोनों हाथों के बीच में ले लिया और उसे इस भाँति धीरे-धीरे घर के अंदर ले चली, जैसे कोई रोगी जीवन से निराश हो कर विष-पान कर रहा हो ! जब पड़ोसियों की भीड़ छँट गयी तो रुक्मिन ने पयाग से पूछा—इसे कहाँ से लाये ? पयाग ने हँस कर कहा —घर से भागी जाती थी, मुझे रास्ते में मिल गयी। घर का काम-धांधा करेगी, पड़ी रहेगी। 'मालूम होता है, मुझसे तुम्हारा जी भर गया।' पयाग ने तिरछी चितवनों से देख कर कहा —दुत् पगली ! इसे तेरी सेवा-टहल करने को लाया हूँ। 'नयी के आगे पुरानी को कौन पूछता है ?' 'चल, मन जिससे मिले वही नयी है, मन जिससे न मिले वही पुरानी है। ला, कुछ पैसा हो तो दे दे, तीन दिन से दम नहीं लगाया, पैर सीधे नहीं पड़ते। हाँ, देख दो-चार दिन इस बेचारी को खिला-पिला दे, फिर तो आप ही काम करने लगेगी।' रुक्मिन ने पूरा रुपया ला कर पयाग के हाथ पर रख दिया। दूसरी बार कहने की जरूरत ही न पड़ी। पयाग में चाहे और कोई गुण हो या न हो, यह मानना पड़ेगा कि वह शासन के मूल सिध्दांतों से परिचित था। उसने भेद-नीति को अपना लक्ष्य बना लिया था। एक मास तक किसी प्रकार की विघ्न-बाधा न पड़ी। रुक्मिन अपनी सारी चौकड़ियाँ भूल गयी थी। बड़े तड़के उठती, कभी लकड़ियाँ तोड़ कर, कभी चारा काट कर, कभी उपले पाथ कर बाजार ले जाती। वहाँ जो कुछ मिलता, उसका आधा तो पयाग के हत्थे चढ़ा देती। आधो में घर का काम चलता। वह सौत को कोई काम न करने देती। पड़ोसियों से कहती , बहन, सौत है तो क्या, है तो अभी कल की बहुरिया। दो-चार महीने भी आराम से न रहेगी, तो क्या याद करेगी। मैं तो काम करने को हूँ ही।

गाँव भर में रुक्मिन के शील-स्वभाव का बखान होता था, पर सत्संगी घाघ पयाग सब कुछ समझता था और अपनी नीति की सफलता पर प्रसन्न होता था। एक दिन बहू ने कहा —दीदी, अब तो घर में बैठे-बैठे जी ऊबता है। मुझे भी कोई काम दिला दो। रुक्मिन ने स्नेह सिंचित स्वर में कहा —क्या मेरे मुख में कालिख पुतवाने पर लगी हुई है ? भीतर का काम किये जा, बाहर के लिए मैं हूँ ही। बहू का नाम कौशल्या था, जो बिगड़ कर सिलिया हो गया था। इस वक्त सिलिया ने कुछ जवाब न दिया। लेकिन वह लौंडियों की दशा अब उसके लिए असह्य हो गयी थी। वह दिन भर घर का काम करते-करते मरे, कोई नहीं पूछता। रुक्मिन बाहर से चार पैसे लाती है, तो घर की मालकिन बनी हुई है। अब सिलिया भी मजूरी करेगी और मालकिन का घमंड तोड़ देगी। पयाग पैसों का यार है, यह बात उससे अब छिपी न थी। जब रुक्मिन चारा ले कर बाजार चली गयी, तो उसने घर की टट्टी लगायी और गाँव का रंग-ढंग देखने के लिए निकल पड़ी। गाँव में ब्राह्मण, ठाकुर, कायस्थ, बनिये सभी थे। सिलिया ने शील और संकोच का कुछ ऐसा स्वाँग रचा की सभी स्त्रियाँ उस पर मुग्ध हो गयीं। किसी ने चावल दिया, किसी ने दाल, किसी ने कुछ। नयी बहू की आवभगत कौन न करता ? पहले ही दौरे में सिलिया को मालूम हो गया कि गाँव में पिसनहारी का स्थान खाली है और वह इस कमी को पूरा कर सकती है। वह यहाँ से घर लौटी, तो उसके सिर पर गेहूँ से भरी हुई एक टोकरी थी। पयाग ने पहर रात ही से चक्की की आवाज सुनी, तो रुक्मिन से बोला — आज तो सिलिया अभी से पीसने लगी। रुक्मिन बाजार से आटा लायी थी। अनाज और आटे के भाव में विशेष अंतर न था। उसे आश्चर्य हुआ कि सिलिया इतने सबेरे क्या पीस रही है। उठ कर कोठरी में आयी, तो देखा कि सिलिया अँधेरे में बैठी कुछ पीस रही है। उसने जा कर उसका हाथ पकड़ लिया और टोकरी को उठा कर बोली — तुझसे किसने पीसने को कहा है ? किसका अनाज पीस रही है ? सिलिया ने निश्शंक हो कर कहा —तुम जा कर आराम से सोती क्यों नहीं। मैं पीसती हूँ, तो तुम्हारा क्या बिगड़ता है ! चक्की की घुमुर-घुमुर भी नहीं सही जाती ? लाओ, टोकरी दे दो, बैठे-बैठे कब तक खाऊँगी, दो महीने तो हो गये। 'मैंने तो तुझसे कुछ नहीं कहा !' 'तुम कहो, चाहे न कहो; अपना धरम भी तो कुछ है।' 'तू अभी यहाँ के आदमियों को नहीं जानती। आटा तो पिसाते सबको अच्छा लगता है। पैसे देते रोते हैं। किसका गेहूँ है ? मैं सबेरे उसके सिर पर पटक आऊँगी।' सिलिया ने रुक्मिन के हाथ से टोकरी छीन ली और बोली — पैसे क्यों न देंगे ? कुछ बेगार करती हूँ ? 'तू न मानेगी ?' 'तुम्हारी लौंडी बन कर न रहूँगी।' यह तकरार सुन कर पयाग भी आ पहुँचा और रुक्मिन से बोला — काम करती है तो करने क्यों नहीं देती ? अब क्या जनम भर बहुरिया ही बनी रहेगी ? हो गये दो महीने। 'तुम क्या जानो, नाक तो मेरी कटेगी।' सिलिया बोल उठी , तो क्या कोई बैठे खिलाता है ? चौका-बरतन, झाडू-बहारू, रोटी-पानी, पीसना-कूटना, यह कौन करता है ? पानी खींचते-खींचते मेरे हाथों में घट्ठे पड़ गये। मुझसे अब सारा काम न होगा। पयाग ने कहा —तो तू ही बाजार जाएा कर। घर का काम रहने दे ! रुक्मिन कर लेगी। रुक्मिन ने आपत्ति की , ऐसी बात मुँह से निकालते लाज नहीं आती ? तीन दिन की बहुरिया बाजार में घूमेगी, तो संसार क्या कहेगा ! सिलिया ने आग्रह करके कहा —संसार क्या कहेगा, क्या कोई ऐब करने जाती हूँ ? सिलिया की डिग्री हो गयी। आधिपत्य रुक्मिन के हाथ से निकल गया। सिलिया की अमलदारी हो गयी। जवान औरत थी। गेहूँ पीस कर उठी तो औरों के साथ घास छीलने चली गयी, और इतनी घास छीली कि सब दंग रह गयीं ! गट्ठा उठाये न उठता था। जिन पुरुषों को घास छीलने का बड़ा अभ्यास था, उनसे भी उसने बाजी मार ली ! यह गट्ठा बारह आने का बिका। सिलिया ने आटा, चावल, दाल, तेल, नमक, तरकारी, मसाला सब कुछ लिया, और चार आने बचा भी लिये। रुक्मिन ने समझ रखा था कि सिलिया बाजार से दो-चार आने पैसे ले कर लौटेगी तो उसे डाटूँगी और दूसरे दिन से फिर बाजार जाने लगूँगी। फिर मेरा राज्य हो जायगा। पर यह सामान देखे, तो आँखें खुल गयीं। पयाग खाने बैठा तो मसालेदार तरकारी का बखान करने लगा। महीनों से ऐसी स्वादिष्ट वस्तु मयस्सर न हुई थी। बहुत प्रसन्न हुआ। भोजन करके वह बाहर जाने लगा, तो सिलिया बरोठे में खड़ी मिल गयी। बोला — आज कितने पैसे मिले ? 'बारह आने मिले थे !' 'सब खर्च कर डाले ? कुछ बचे हों तो मुझे दे दे।' सिलिया ने बचे हुए चार आने पैसे दे दिये। पयाग पैसे खनखनाता हुआ बोला — तूने तो आज मालामाल कर दिया। रुक्मिन तो दो-चार पैसों ही में टाल देती थी। 'मुझे गाड़ कर रखना थोड़े ही है। पैसा खाने-पीने के लिए है कि गाड़ने के लिए ?' 'अब तू ही बाजार जाएा कर, रुक्मिन घर का काम करेगी।' रुक्मिन और सिलिया में संग्राम छिड़ गया। सिलिया पयाग पर अपना आधिपत्य जमाये रखने के लिए जान तोड़ कर परिश्रम करती। पहर रात ही से उसकी चक्की की आवाज कानों में आने लगती। दिन निकलते ही घास लाने चली जाती और जरा देर सुस्ता कर बाजार की राह लेती। वहाँ से लौट कर भी वह बेकार न बैठती, कभी सन कातती, कभी लकड़ियाँ तोड़ती। रुक्मिन उसके प्रबंध में बराबर ऐब निकालती और जब अवसर मिलता तो गोबर बटोर कर उपले पाथती और गाँव में बेचती। पयाग के दोनों हाथों में लड्डू थे। स्त्रियाँ उसे अधिक से अधिक पैसे देने और स्नेह का अधिकांश देकर अपने अधिकार में लाने का प्रयत्न करती रहतीं, पर सिलिया ने कुछ ऐसी दृढ़ता से आसन जमा लिया था कि किसी तरह हिलाये न हिलती थी। यहाँ तक कि एक दिन दोनों प्रतियोगियों में खुल्लमखुल्ला ठन गयी। एक दिन सिलिया घास ले कर लौटी तो पसीने से तर थी। फागुन का महीना था; धूप तेज थी। उसने सोचा, नहा कर तब बाजार जाऊँगी। घास द्वार पर ही रख कर वह तालाब में नहाने चली गयी। रुक्मिन ने थोड़ी-सी घास निकाल कर पड़ोसिन के घर में छिपा दी और गट्ठे को ढीला करके बराबर कर दिया। सिलिया नहा कर लौटी तो घास कम मालूम हुई। रुक्मिन से पूछा। उसने कहा —मैं नहीं जानती। सिलिया ने गालियाँ देनी शुरू कीं , जिसने मेरी घास छुई हो, उसकी देह में कीड़े पड़ें, उसके बाप और भाई मर जाएँ, उसकी आँखें फूट जाएँ। रुक्मिन कुछ देर तक तो जब्त किये बैठी रही, आखिर खून में उबाल आ ही गया। झल्ला कर उठी और सिलिया के दो-तीन तमाचे लगा दिये। सिलिया छाती पीट-पीट कर रोने लगी। सारा मुहल्ला जमा हो गया। सिलिया की सुबुद्धि और कार्यशीलता सभी की आँखों में खटकती थी , वह सबसे अधिक घास क्यों छीलती है, सबसे ज्यादा लकड़ियाँ क्यों लाती है, इतने सबेरे क्यों उठती है, इतने पैसे क्यों लाती है, इन कारणों ने उसे पड़ोसियों की सहानुभूति से वंचित कर दिया था। सब उसी को बुरा-भला कहने लगीं। मुट्ठी भर घास के लिए इतना ऊधाम मचा डाला, इतनी घास तो आदमी झाड़ कर फेंक देता है। घास न हुई, सोना हुआ। तुझे तो सोचना चाहिए था कि अगर किसी ने ले ही लिया, तो है तो गाँव-घर ही का। बाहर का कोई चोर तो आया नहीं। तूने इतनी गालियाँ दीं, तो किसको दीं ? पड़ोसियों ही को तो ? संयोग से उस दिन पयाग थाने गया हुआ था। शाम को थका-माँदा लौटा तो सिलिया से बोला — ला, कुछ पैसे दे दे, तो दम लगा आऊँ। थक कर चूर हो गया हूँ। सिलिया उसे देखते ही हाय-हाय करके रोने लगी। पयाग ने घबरा कर पूछा—क्या हुआ ? क्यों रोती है ? कहीं गमी तो नहीं हो गयी ? नैहर से कोई आदमी तो नहीं आया ? 'अब इस घर में मेरा रहना न होगा। अपने घर जाऊँगी।' 'अरे, कुछ मुँह से तो बोल; हुआ क्या ? गाँव में किसी ने गाली दी है ? किसने गाली दी है ? घर फूँक दूँ, उसका चालान करवा दूँ।' सिलिया ने रो-रो कर सारी कथा कह सुनायी। पयाग पर आज थाने में खूब मार पड़ी थी। झल्लाया हुआ था। वह कथा सुनी, तो देह में आग लग गयी। रुक्मिन पानी भरने गयी थी। वह अभी घड़ा भी न रखने पायी थी कि पयाग उस पर टूट पड़ा और मारते-मारते बेदम कर दिया। वह मार का जवाब गालियों से देती थी और पयाग हर एक गाली पर और झल्ला-झल्ला कर मारता था। यहाँ तक कि रुक्मिन के घुटने फूट गये, चूड़ियाँ टूट गयीं। सिलिया बीच-बीच में कहती जाती थी , वाह रे तेरा दीदा ! वाह रे तेरी जबान ! ऐसी तो औरत ही नहीं देखी। औरत काहे को, डाइन है, जरा भी मुँह में लगाम नहीं ! किंतु रुक्मिन उसकी बातों को मानो सुनती ही न थी। उसकी सारी शक्ति पयाग को कोसने में लगी हुई थी। पयाग मारते-मारते थक गया, पर रुक्मिन की जबान न थकी। बस, यही रट लगी हुई थी , तू मर जा, तेरी मिट्टी निकले, तुझे भवानी खायँ, तुझे मिरगी आये। पयाग रह-रह कर क्रोध से तिलमिला उठता और आ कर दो-चार लातें जमा देता। पर रुक्मिन को अब शायद चोट ही न लगती थी। वह जगह से हिलती भी न थी। सिर के बाल खोले, जमीन पर बैठी इन्हीं मंत्रों का पाठ कर रही थी। उसके स्वर में अब क्रोध न था, केवल एक उन्मादमय प्रवाह था। उसकी समस्त आत्मा हिंसा-कामना की अग्नि से प्रज्ज्वलित हो रही थी। अँधेरा हुआ तो रुक्मिन उठ कर एक ओर निकल गयी, जैसे आँखों से आँसू की धार निकल जाती है। सिलिया भोजन बना रही थी। उसने उसे जाते देखा भी, पर कुछ पूछा नहीं। द्वार पर पयाग बैठा चिलम पी रहा था। उसने भी कुछ न कहा। जब फसल पकने लगती थी, तो डेढ़-दो महीने तक पयाग को हार की देखभाल करनी पड़ती थी। उसे किसानों से दोनों फसलों पर हल पीछे कुछ अनाज बँधा हुआ था। माघ ही में वह हार के बीच में थोड़ी-सी जमीन साफ करके एक मड़ैया डाल लेता था और रात को खा-पी कर आग, चिलम और तमाखू-चरस लिये हुए इसी मड़ैया में जा कर पड़ा रहता था। चैत के अंत तक उसका यही नियम रहता था। आजकल वही दिन थे। फसल पकी हुई तैयार खड़ी थी। दो-चार दिन में कटाई शुरू होनेवाली थी। पयाग ने दस बजे रात तक रुक्मिन की राह देखी। फिर यह समझ कर कि शायद किसी पड़ोसिन के घर सो रही होगी, उसने खा-पी कर अपनी लाठी उठायी और सिलिया से बोला — किवाड़ बंद कर ले, अगर रुक्मिन आये तो खोल देना, और, मना-जुना कर थोड़ा-बहुत खिला देना। तेरे पीछे आज इतना तूफान हो गया। मुझे न-जाने इतना गुस्सा कैसे आ गया। मैंने उसे कभी फूल की छड़ी से भी न छुआ था। कहीं बूड़-धाँस न मरी हो, तो कल आफत आ जाए। सिलिया बोली — न जाने वह आयेगी कि नहीं। मैं अकेली कैसे रहूँगी। मुझे डर लगता है। 'तो घर में कौन रहेगा ? सूना घर पा कर कोई लोटा-थाली उठा ले जाए तो ? डर किस बात का है ? फिर रुक्मिन तो आती ही होगी।' सिलिया ने अंदर से टट्टी बंद कर ली। पयाग हार की ओर चला। चरस की तरंग में यह भजन गाता जाता था , ठगिनी ! क्या नैना झमकावे कद्दू काट मृदंग बनावे, नीबू काट मजीरा; पाँच तरोई मंगल गावें, नाचे बालम खीरा। रूपा पहिर के रूप दिखावे, सोना पहिर रिझावे; गले डाल तुलसी की माला, तीन लोक भरमावे। ठगिनी... सहसा सिवाने पर पहुँचते ही उसने देखा कि सामने हार में किसी ने आग जलायी। एक क्षण में एक ज्वाला-सी दहक उठी। उसने चिल्ला कर पुकारा , कौन है वहाँ ? अरे, यह कौन आग जलाता है ? ऊपर उठती हुई ज्वालाओं ने अपनी आग्नेय जिह्ना से उत्तर दिया। अब पयाग को मालूम हुआ कि उसकी मड़ैया में आग लगी हुई है। उसकी छाती धाड़कने लगी। इस मड़ैया में आग लगाना रुई के ढेर में आग लगाना था। हवा चल रही थी। मड़ैया के चारों ओर एक हाथ हट कर पकी हुई फसल की चादर-सी बिछी हुई थी। रात में भी उनका सुनहरा रंग झलक रहा था। आग की एक लपट, केवल एक जरा-सी चिनगारी सारे हार को भस्म कर देगी। सारा गाँव तबाह हो जायगा। इसी हार से मिले हुए दूसरे गाँव के भी हार थे। वे भी जल उठेंगे। ओह ! लपटें बढ़ती जा रही हैं। अब विलम्ब करने का समय न था। पयाग ने अपना उपला और चिलम वहीं पटक दिया और कंधो पर लोहबंद लाठी रख कर बेतहाशा मड़ैया की तरफ दौड़ा। मेड़ों से जाने में चक्कर था, इसलिए वह खेतों में से हो कर भागा जा रहा था। प्रति क्षण ज्वाला प्रचंडतर होती जाती थी और पयाग के पाँव और तेजी से उठ रहे थे। कोई तेज घोड़ा भी इस वक्त उसे पा न सकता था। अपनी तेजी पर उसे स्वयं आश्चर्य हो रहा था। जान पड़ता था, पाँव भूमि पर पड़ते ही नहीं। उसकी आँखें मड़ैया पर लगी हुई थीं , दाहिने-बायें से और कुछ न सूझता था। इसी एकाग्रता ने उसके पैरों में पर लगा दिये थे। न दम फूलता था, न पाँव थकते थे। तीन-चार फरलाँग उसने दो मिनट में तय कर लिये और मड़ैया के पास जा पहुँचा। मड़ैया के आस-पास कोई न था। किसने यह कर्म किया है, यह सोचने 1405 का मौका न था। उसे खोजने की तो बात ही और थी। पयाग का संदेह रुक्मिन पर हुआ। पर यह क्रोध का समय न था। ज्वालाएँ कुचाली बालकों की भाँति ठट्ठा मारतीं, धाक्कम-धाक्का करतीं, कभी दाहिनी ओर लपकतीं और कभी बायीं तरफ। बस, ऐसा मालूम होता था कि लपट अब खेत तक पहुँची, अब पहुँची। मानो ज्वालाएँ आग्रहपूर्वक क्यारियों की ओर बढ़तीं और असफल हो कर दूसरी बार फिर दूने वेग से लपकती थीं। आग कैसे बुझे ! लाठी से पीट कर बुझाने का गौं न था। वह तो निरी मूर्खता थी। फिर क्या हो ! फसल जल गयी, तो फिर वह किसी को मुँह न दिखा सकेगा। आह ! गाँव में कोहराम मच जायगा। सर्वनाश हो जायगा। उसने ज्यादा नहीं सोचा। गँवारों को सोचना नहीं आता। पयाग ने लाठी सँभाली, जोर से एक छलाँग मार कर आग के अंदर मड़ैया के द्वार पर जा पहुँचा, जलती हुई मड़ैया को अपनी लाठी पर उठाया और उसे सिर पर लिये सबसे चौड़ी मेड़ पर गाँव की तरफ भागा। ऐसा जान पड़ा, मानो कोई अग्नि-यान हवा में उड़ता चला जा रहा है। फूस की जलती हुई धाज्जियाँ उसके ऊपर गिर रही थीं, पर उसे इसका ज्ञान तक न होता था। एक बार एक मूठा अलग हो कर उसके हाथ पर गिर पड़ा। सारा हाथ भुन गया। पर उसके पाँव पल भर भी नहीं रुके, हाथों में जरा भी हिचक न हुई। हाथों का हिलना खेती का तबाह होना था। पयाग की ओर से अब कोई शंका न थी। अगर भय था तो यही कि मड़ैया का वह केंद्र-भाग जहाँ लाठी का कुंदा डाल कर पयाग ने उसे उठाया था, न जल जाए; क्योंकि छेद के फैलते ही मड़ैया उसके ऊपर आ गिरेगी और अग्नि-समाधि में मग्न कर देगी। पयाग यह जानता था और हवा की चाल से उड़ा चला जाता था। चार फरलाँग की दौड़ है। मृत्यु अग्नि का रूप धारण किये हुए पयाग के सर पर खेल रही है और गाँव की फसल पर। उसकी दौड़ में इतना वेग है कि ज्वालाओं का मुँह पीछे को फिर गया है और उसकी दाहक शक्ति का अधिकांश वायु से लड़ने में लग रहा है। नहीं तो अब तक बीच में आग पहुँच गयी होती और हाहाकार मच गया होता। एक फरलाँग तो निकल गया, पयाग की हिम्मत ने हार नहीं मानी। वह दूसरा फरलाँग भी पूरा हो गया। देखना पयाग, दो फरलाँग की और कसर है। पाँव जरा भी सुस्त न हों। ज्वाला लाठी के कुंदे पर पहुँची और तुम्हारे जीवन का अंत है। मरने के बाद भी तुम्हें गालियाँ मिलेंगी, तुम अनंत काल तक आहों की आग में जलते रहोगे। 1406 : मानसरोवर बस, एक मिनट और ! अब केवल दो खेत और रह गये हैं। सर्वनाश ! लाठी का कुंदा निकल गया। मड़ैया नीचे खिसक रही है, अब कोई आशा नहीं। पयाग प्राण छोड़ कर दौड़ रहा है, वह किनारे का खेत आ पहुँचा। अब केवल दो सेकेंड का और मामला है। विजय का द्वार सामने बीस हाथ पर खड़ा स्वागत कर रहा है। उधर स्वर्ग है, इधर नरक। मगर वह मड़ैया खिसकती हुई पयाग के सिर पर आ पहुँची। वह अब भी उसे फेंक कर अपनी जान बचा सकता है। पर उसे प्राणों का मोह नहीं। वह उस जलती हुई आग को सिर पर लिये भागा जा रहा है ! वहाँ उसके पाँव लड़खड़ाये ! अब यह क्रूर अग्नि-लीला नहीं देखी जाती। एकाएक एक स्त्री सामने के वृक्ष के नीचे से दौड़ती हुई पयाग के पास पहुँची। यह रुक्मिन थी। उसने तुरंत पयाग के सामने आ कर गरदन झुकायी और जलती हुई मड़ैया के नीचे पहुँच कर उसे दोनों हाथों पर ले लिया। उसी दम पयाग मूर्च्छित हो कर गिर पड़ा। उसका सारा मुँह झुलस गया था। रुक्मिन उसके अलाव को लिये एक सेकेंड में खेत के डॉड़े पर आ पहुँची, मगर इतनी दूर में उसके हाथ जल गये, मुँह जल गया और कपड़ों में आग लग गयी। उसे अब इतनी सुधि भी न थी कि मड़ैया के बाहर निकल आये। वह मड़ैया को लिये हुए गिर पड़ी। इसके बाद कुछ देर तक मड़ैया हिलती रही। रुक्मिन हाथ-पाँव फेंकती रही, फिर अग्नि ने उसे निगल लिया। रुक्मिन ने अग्नि-समाधि ले ली। कुछ देर के बाद पयाग को होश आया। सारी देह जल रही थी। उसने देखा, वृक्ष के नीचे फूस की लाल आग चमक रही है। उठ कर दौड़ा और पैर से आग को हटा दिया , नीचे रुक्मिन की अधाजली लाश पड़ी हुई थी। उसने बैठ कर दोनों हाथों से मुँह ढाँप लिया और रोने लगा। प्रात:काल गाँव के लोग पयाग को उठा कर उसके घर ले गये। एक सप्ताह तक उसका इलाज होता रहा, पर बचा नहीं। कुछ तो आग ने जलाया था, जो कुछ कसर थी, वह शोकाग्नि ने पूरी कर दी।

बेटी का धन - मुंशी प्रेमचन्द



बीच इस तरह मुँह छिपाये हुए थी जैसे निर्मल हृदयों में साहस और उत्साह की मद्धम ज्योति छिपी रहती है। इसके एक कगार पर एक छोटा-सा गाँव बसा है जो अपने भग्न जातीय चिह्नों के लिए बहुत ही प्रसिद्ध है। जातीय गाथाओं और चिह्नों पर मर मिटनेवाले लोग इस भावनस्थान पर बड़े प्रेम और श्रद्धा के साथ आते और गाँव का बूढ़ा केवट सुक्खू चौधरी उन्हें उसकी परिक्रमा कराता और रानी के महल, राजा का दरबार और कुँवर की बैठक के मिटे हुए चिद्दों को दिखाता। वह एक उच्छ्वास लेकर रुँधे हुए गले से कहता, महाशय ! एक वह समय था कि केवटों को मछलियों के इनाम में अशर्फियाँ मिलती थीं। कहार महल में झाडू देते हुए अशर्फियाँ बटोर ले जाते थे। बेतवा नदी रोज चढ़ कर महाराज के चरण छूने आती थी। यह प्रताप और यह तेज था, परन्तु आज इसकी यह दशा है। इन सुन्दर उक्तियों पर किसी का विश्वास जमाना चौधरी के वश की बात न थी, पर सुननेवाले उसकी सहृदयता तथा अनुराग के जरूर कायल हो जाते थे।

सुक्खू चौधरी उदार पुरुष थे, परन्तु जितना बड़ा मुँह था, उतना बड़ा ग्रास न था। तीन लड़के, तीन बहुएँ और कई पौत्र-पौत्रियाँ थीं। लड़की केवल एक गंगाजली थी जिसका अभी तक गौना नहीं हुआ था। चौधरी की यह सबसे पिछली संतान थी। स्त्री के मर जाने पर उसने इसको बकरी का दूध पिला-पिला कर पाला था। परिवार में खानेवाले तो इतने थे, पर खेती सिर्फ एक हल की होती थी। ज्यों-त्यों कर निर्वाह होता था, परन्तु सुक्खू की वृद्धावस्था और पुरातत्त्व ज्ञान ने उसे गाँव में वह मान और प्रतिष्ठा प्रदान कर रक्खी थी, जिसे देख कर झगडू साहु भीतर ही भीतर जलते थे। सुक्खू जब गाँववालों के समक्ष, हाकिमों से हाथ फेंक-फेंक कर बातें करने लगता और खंडहरों को घुमा-फिरा कर दिखाने लगता था तो झगडू साहु जो चपरासियों के धक्के खाने के डर से करीब नहीं फटकते थे तड़प-तड़प कर रह जाते थे। अतः वे सदा इस शुभ अवसर की प्रतीक्षा करते रहते थे, जब सुक्खू पर अपने धन द्वारा प्रभुत्व जमा सकें।

इस गाँव के जमींदार ठाकुर जीतनसिंह थे, जिनकी बेगार के मारे गाँववालों का नाकों दम था। उस साल जब जिला मजिस्ट्रेट का दौरा हुआ और वह यहाँ के पुरातन चिह्नों की सैर करने के लिए पधारे, तो सुक्खू चौधरी ने दबी जबान से अपने गाँववालों की दुःख-कहानी उन्हें सुनायी। हाकिमों से वार्तालाप करने में उसे तनिक भी भय न होता था। सुक्खू चौधरी को खूब मालूम था कि जीतनसिंह से रार मचाना सिंह के मुँह में सिर देना है। किंतु जब गाँववाले कहते थे कि चौधरी तुम्हारी ऐसे-ऐसे हाकिमों से मिताई है और हम लोगों को रात-दिन रोते कटता है तो फिर तुम्हारी यह मित्रता किस दिन काम आवेगी। परोपकाराय सताम् विभूतयः। तब सुक्खू का मिज़ाज आसमान पर चढ़ जाता था। घड़ी भर के लिए वह जीतनसिंह को भूल जाता था। मजिस्ट्रेट ने जीतनसिंह से इसका उत्तर माँगा। उधर झगडू साहु ने चौधरी के इस साहसपूर्ण स्वामीद्रोह की रिपोर्ट जीतनसिंह को दी। ठाकुर साहब जल कर आग हो गये। अपने कारिंदे से बकाया लगान की बही माँगी। संयोगवश चौधरी के जिम्मे इस साल का कुछ लगान बाकी था। कुछ तो पैदावार कम हुई, उस पर गंगाजली का ब्याह करना पड़ा। छोटी बहू नथ की रट लगाये हुए थी; वह बनवानी पड़ी। इन सब खर्चों ने हाथ बिलकुल खाली कर दिया था। लगान के लिए कुछ अधिक चिंता नहीं थी। वह इस अभिमान में भूला हुआ था कि जिस जबान में हाकिमों को प्रसन्न करने की शक्ति है, क्या वह ठाकुर साहब को अपना लक्ष्य न बना सकेगी ? बूढ़े चौधरी इधर तो अपने गर्व में निश्चिंत थे और उधर उन पर बकाया लगान की नालिश ठुक गयी। सम्मन आ पहुँचा। दूसरे दिन पेशी की तारीख पड़ गयी। चौधरी को अपना जादू चलाने का अवसर न मिला।

जिन लोगों के बढ़ावे में आ कर सुक्खू ने ठाकुर से छेड़छाड़ की थी, उनका दर्शन मिलना दुर्लभ हो गया। ठाकुर साहब के सहने और प्यादे गाँव में चील की तरह मँडराने लगे। उनके भय से किसी को चौधरी की परछाईं काटने का साहस न होता था। कचहरी वहाँ से तीन मील पर थी। बरसात के दिन, रास्ते में ठौर-ठौर पानी, उमड़ी हुई नदियाँ, रास्ता कच्चा, बैलगाड़ी का निबाह नहीं, पैरों में बल नहीं, अतः अदमपैरवी में मुकदमे एकतरफा फैसला हो गया।

कुर्की का नोटिस पहुँचा तो चौधरी के हाथ-पाँव फूल गये। सारी चतुराई भूल गयी। चुपचाप अपनी खाट पर पड़ा-पड़ा नदी की ओर ताकता और अपने मन में कहता, क्या मेरे जीते जी घर मिट्टी में मिल जायगा। मेरे इन बैलों की सुंदर जोड़ी के गले में आह ! क्या दूसरों का जुआ पड़ेगा ? यह सोचते-सोचते उसकी आँखें भर आतीं। वह बैलों से लिपट कर रोने लगा, परंतु बैलों की आँखों से क्यों आँसू जारी थे ? वे नाँद में मुँह क्यों नहीं डालते थे ? क्या उनके हृदय पर भी अपने स्वामी के दुःख की चोट पहुँच रही थी !

फिर वह अपने झोपड़े को विकल नयनों से निहार कर देखता। और मन में सोचता, क्या हमको इस घर से निकलना पड़ेगा ? यह पूर्वजों की निशानी क्या हमारे जीते जी छिन जायगी ?

कुछ लोग परीक्षा में दृढ़ रहते हैं और कुछ लोग इसकी हलकी आँच भी नहीं सह सकते। चौधरी अपनी खाट पर उदास पड़े घंटों अपने कुलदेव महावीर और महादेव को मनाया करता और उनका गुण गाया करता। उसकी चिंतादग्ध आत्मा को और कोई सहारा न था।

इसमें कोई संदेह न था कि चौधरी की तीनों बहुओं के पास गहने थे, पर स्त्री का गहना ऊख का रस है, जो पेरने ही से निकलता है। चौधरी जाति का ओछा पर स्वभाव का ऊँचा था। उसे ऐसी नीच बात बहुओं से कहते संकोच होता था। कदाचित् यह नीच विचार उसके हृदय में उत्पन्न ही नहीं हुआ था, किंतु तीनों बेटे यदि जरा भी बुद्धि से काम लेते तो बूढ़े को देवताओं की शरण लेने की आवश्यकता न होती। परंतु यहाँ तो बात ही निराली थी। बड़े लड़के को घाट के काम से फुरसत न थी। बाकी दो लड़के इस जटिल प्रश्न को विचित्र रूप से हल करने के मंसूबे बाँध रहे थे।

मँझले झींगुर ने मुँह बना कर कहा- उँह ! इस गाँव में क्या धरा है। जहाँ ही कमाऊँगा, वहीं खाऊँगा पर जीतनसिंह की मूँछें एक-एक करके चुन लूँगा।

छोटे फक्कड़ ऐंठ कर बोले- मूँछें तुम चुन लेना ! नाक मैं उड़ा दूँगा। नकटा बना घूमेगा।

इस पर दोनों खूब हँसे और मछली मारने चल दिये।

इस गाँव में एक बूढ़े ब्राह्मण भी रहते थे। मंदिर में पूजा करते और नित्य अपने यजमानों को दर्शन देने नदी पार जाते, पर खेवे के पैसे न देते। तीसरे दिन वह जमींदार के गुप्तचरों की आँख बचाकर सुक्खू के पास आये और सहानुभूति के स्वर में बोले चौधरी ! कल ही तक मियाद है और तुम अभी तक पड़े-पड़े सो रहे हो। क्यों नहीं घर की चीज ढूँढ़-ढाँढ़ कर किसी और जगह भेज देते ? न हो समधियाने पठवा दो। जो कुछ बच रहे, वही सही। घर की मिट्टी खोद कर थोड़े ही कोई ले जायगा।

चौधरी लेटा था, उठ बैठा और आकाश की ओर निहार कर बोला- जो कुछ उसकी इच्छा है, वह होगा। मुझसे यह जाल न होगा।

इधर कई दिन की निरंतर भक्ति और उपासना के कारण चौधरी का मन शुद्ध और पवित्र हो गया था। उसे छल-प्रपंच से घृणा हो गयी थी। पंडित जी जो इस काम में सिद्धहस्त थे, लज्जित हो गये।

परंतु चौधरी के घर के अन्य लोगों को ईश्वरेच्छा पर इतना भरोसा न था। धीरे-धीरे घर के बर्तन-भाँड़े खिसकाये जाते थे। अनाज का एक दाना भी घर में न रहने पाया। रात को नाव लदी हुई जाती और उधर से खाली लौटती थी। तीन दिन तक घर में चूल्हा न जला। बूढ़े चौधरी के मुँह में अन्न की कौन कहे पानी की एक बूँद भी न पड़ी। स्त्रिायाँ भाड़ से चने भुना कर चबातीं, और लड़के मछलियाँ भून-भून कर उड़ाते। परंतु बूढ़े की इस एकादशी में यदि कोई शरीक था तो वह उसकी बेटी गंगाजली थी। यह बेचारी अपने बूढ़े बाप को चारपाई पर निर्जल छटपटाते देख बिलख-बिलख कर रोती।

लड़कों को अपने माता-पिता से वह प्रेम नहीं होता जो लड़कियों को होता है। गंगाजली इस सोच-विचार में मग्न रहती थी कि दादा की किस भाँति सहायता करूँ। यदि हम सब भाई-बहन मिल कर जीतनसिंह के पास जाकर दया-भिक्षा की प्रार्थना करें तो वे अवश्य मान जायँगे; परंतु दादा को कब यह स्वीकार होगा। वह यदि एक दिन बड़े साहब के पास चले जायँ तो सब कुछ बात की बात में बन जाय। किंतु उनकी तो जैसे बुद्धि ही मारी गयी है। इसी उधेड़बुन में उसे एक उपाय सूझ पड़ा, कुम्हलाया हुआ मुखारविंद खिल उठा।

पुजारी जी सुक्खू चौधरी के पास से उठ कर चले गये थे और चौधरी उच्च स्वर से अपने सोये हुए देवताओं को पुकार-पुकार कर बुला रहे थे। निदान गंगाजली उनके पास जा कर खड़ी हो गयी। चौधरी ने उसे देख कर विस्मित स्वर में पूछा क्यों बेटी ? इतनी रात गये क्यों बाहर आयी ?

गंगाजली ने कहा- बाहर रहना तो भाग्य में लिखा है, घर में कैसे रहूँ।

सुक्खू ने जोर से हाँक लगायी- कहाँ गये तुम कृष्णमुरारी, मेरे दुःख हरो।

गंगाजली खड़ी थी, बैठ गयी और धीरे से बोली- भजन गाते तो आज तीन दिन हो गये। घर बचाने का भी कुछ उपाय सोचा कि इसे यों ही मिट्टी में मिला दोगे ? हम लोगों को क्या पेड़ तले रखोगे ?

चौधरी ने व्यथित स्वर से कहा- बेटी, मुझे तो कोई उपाय नहीं सूझता। भगवान् जो चाहेंगे, होगा। वेग चलो गिरधर गोपाल, काहे विलम्ब करो।

गंगाजली ने कहा- मैंने एक उपाय सोचा है, कहो तो कहूँ।

चौधरी उठ कर बैठ गये और पूछा- कौन उपाय है बेटी ?

गंगाजली ने कहा- मेरे गहने झगडू साहु के यहाँ गिरों रख दो। मैंने जोड़ लिया है। देने भर के रुपये हो जायँगे।

चौधरी ने ठंडी साँस ले कर कहा- बेटी ! तुमको मुझसे यह बात कहते लाज नहीं आती। वेद-शास्त्रा में मुझे तुम्हारे गाँव के कुएँ का पानी पीना भी मना है। तुम्हारी ड्योढ़ी में भी पैर रखने का निषेध है। क्या तुम मुझे नरक में ढकेलना चाहती हो ?

गंगाजली उत्तर के लिए पहले ही से तैयार थी। बोली- मैं अपने गहने तुम्हें दिये थोड़े ही देती हूँ। इस समय ले कर काम चलाओ, चैत में छुड़ा देना। चौधरी ने कड़क कर कहा यह मुझसे न होगा।

गंगाजली उत्तेजित हो कर बोली- तुमसे यह न होगा तो मैं आप ही जाऊँगी, मुझसे घर की यह दुर्दशा नहीं देखी जाती।

चौधरी ने झुँझला कर कहा- बिरादरी में कौन मुँह दिखाऊँगा ?

गंगाजली ने चिढ़ कर कहा- बिरादरी में कौन ढिंढोरा पीटने जाता है।

चौधरी ने फैसला सुनाया- जगहँसाई के लिए मैं अपना धर्म न बिगाडूँगा।

गंगाजली बिगड़कर बोली- मेरी बात नहीं मानोगे तो तुम्हारे ऊपर मेरी हत्या पड़ेगी। मैं आज ही इस बेतवा नदी में कूद पडूँगी। तुमसे चाहे घर में आग लगते देखा जाय, पर मुझसे तो न देखा जायगा।

चौधरी ने ठंडी साँस ले कर कातर स्वर में कहा- बेटी, मेरा धर्म नाश मत करो। यदि ऐसा ही है तो अपनी किसी भावज के गहने माँग कर लाओ।

गंगाजली ने गम्भीर स्वर में कहा- भावजों से कौन अपना मुँह नोचवाने जायगा। उनको फिकर होती तो क्या मुँह में दही जमा था, कहतीं नहीं।

चौधरी निरुत्तर हो गये। गंगाजली घर में जा कर गहनों की पिटारी लायी और एक-एक करके सब गहने चौधरी के अँगोछे में बाँध दिये। चौधरी ने आँखों में आँसू भर कर कहा- हाय राम, इस शरीर की क्या गति लिखी है ! यह कह कर उठे। बहुत सम्हालने पर भी आँखों में आँसू न छिपे।

रात का समय था। बेतवा नदी के किनारे-किनारे मार्ग को छोड़कर सुक्खू चौधरी गहनों की गठरी काँख में दबाये इस तरह चुपके-चुपके चल रहे थे मानो पाप की गठरी लिये जाते हैं। जब वह झगडू साहु के मकान के पास पहुँचे तो ठहर गये, आँखें खूब साफ कीं, जिससे किसी को यह न बोध हो कि चौधरी रोता था।

झगडू साहु धागे की कमानी की एक मोटी ऐनक लगाये बहीखाता फैलाये हुक्का पी रहे थे, और दीपक के धुँधले प्रकाश में उन अक्षरों को पढ़ने की व्यर्थ चेष्टा में लगे थे जिनमें स्याही की किफायत की गयी थी। बार-बार ऐनक को साफ करते और आँख मलते, पर चिराग की बत्ती उकसाना या दोहरी बत्ती लगाना शायद इसलिए उचित नहीं समझते थे कि तेल का अपव्यय होगा। इसी समय सुक्खू चौधरी ने आ कर कहा जयराम जी।

झगडू साहु ने देखा। पहचान कर बोले- जयराम चौधरी ! कहो मुकदमे में क्या हुआ ? यह लेन-देन बड़े झंझट का काम है। दिन भर सिर उठाने की छुट्टी नहीं मिलती।

चौधरी ने पोटली को खूब सावधानी से छिपा कर लापरवाही के साथ कहा- अभी तक तो कुछ नहीं हुआ। कल इजरायडिगरी होनेवाली है। ठाकुर साहब ने न जाने कब का बैर निकाला है। हमको दो-तीन दिन की भी मुहलत होती तो डिगरी न जारी होने पाती। छोटे साहब और बड़े साहब दोनों हमको अच्छी तरह जानते हैं। अभी इसी साल मैंने उनसे नदी किनारे घंटों बातें कीं, किंतु एक तो बरसात के दिन, दूसरे एक दिन की भी मुहलत नहीं, क्या करता ! इस समय मुझे रुपयों की चिंता है।

झगडू साहु ने विस्मित हो कर पूछा- तुमको रुपयों की चिंता ! घर में भरा है, वह किस दिन काम आवेगा। झगडू साहु ने यह व्यंग्यबाण नहीं छोड़ा था। वास्तव में उन्हें और सारे गाँव को विश्वास था कि चौधरी के घर में लक्ष्मी महारानी का अखंड राज्य है।

चौधरी का रंग बदलने लगा। बोले- साहु जी ! रुपया होता तो किस बात की चिंता थी ? तुमसे कौन छिपाव है। आज तीन दिन से घर में चूल्हा नहीं जला, रोना-पीटना पड़ा है। अब तो तुम्हारे बसाये बसूँगा। ठाकुर साहब ने तो उजाड़ने में कोई कसर न छोड़ी।

झगडू साहु जीतनसिंह को खुश रखना जरूर चाहते थे, पर साथ ही चौधरी को भी नाखुश करना मंजूर न था। यदि सूद-दर-सूद छोड़ कर मूल तथा ब्याज सहज वसूल हो जाय तो उन्हें चौधरी पर मुफ्त का एहसान लादने में कोई आपत्ति न थी। यदि चौधरी के अफसरों की जान-पहचान के कारण साहु जी का टैक्स से गला छूट जाय, जो अनेक उपाय करने अहलकारों की मुट्ठी गरम करने पर भी नित्य प्रति उनकी तोंद की तरह बढ़ता ही जा रहा था तो क्या पूछना ! बोले-

-क्या कहें चौधरी जी, खर्च के मारे आजकल हम भी तबाह हैं। लहने वसूल नहीं होते। टैक्स का रुपया देना पड़ा। हाथ बिलकुल खाली हो गया। तुम्हें कितना रुपया चाहिए ?

चौधरी ने कहा- सौ रुपये की डिगरी है। खर्च-बर्च मिला कर दो सौ के लगभग समझो।

झगडू अब अपने दाँव खेलने लगे। पूछा- तुम्हारे लड़कों ने तुम्हारी कुछ भी मदद न की। वह सब भी तो कुछ न कुछ कमाते ही हैं।

साहु जी का यह निशाना ठीक पड़ा लड़कों ने लापरवाही से चौधरी के मन में जो कुत्सित भाव भरे थे वह सजीव हो गये। बोले- भाई, लड़के किसी काम के होते तो यह दिन क्यों देखना पड़ता। उन्हें तो अपने भोग-विलास से मतलब। घर-गृहस्थी का बोझ तो मेरे सिर पर है। मैं इसे जैसे चाहूँ, सँभालूँ उनसे कुछ सरोकार नहीं, मरते दम भी गला नहीं छूटता। मरूँगा तो सब खाल में भूसा भरा कर रख छोड़ेंगे। ‘गृह कारज नाना जंजाला।’

झगडू ने तीसरा तीर मारा- क्या बहुओं से भी कुछ न बन पड़ा।

चौधरी ने उत्तर दिया- बहू-बेटे सब अपनी-अपनी मौज में मस्त हैं। मैं तीन दिन तक द्वार पर बिना अन्न-जल के पड़ा था, किसी ने बात भी नहीं पूछी। कहाँ की सलाह, कहाँ की बातचीत। बहुओं के पास रुपये न हों, पर गहने तो हैं और वे भी मेरे बनाये हुए। इस दुर्दिन के समय यदि दो-दो थान उतार देतीं तो क्या मैं छुड़ा न देता ? सदा यही दिन थोड़े ही रहेंगे।

झगडू समझ गये कि यह महज जबान का सौदा है और वह जबान का सौदा भूलकर भी न करते थे। बोले- तुम्हारे घर के लोग भी अनूठे हैं। क्या इतना भी नहीं जानते कि बूढ़ा रुपये कहाँ से लावेगा ? अब समय बदल गया। या तो कुछ जायदाद लिखो या गहने गिरों रखो तब जा कर रुपया मिले। इसके बिना रुपये कहाँ। इसमें भी जायदाद में सैकड़ों बखेड़े पड़े हैं। सुभीता गिरों रखने में ही है। हाँ, तो जब घरवालों को कोई इसकी फिक्र नहीं तो तुम क्यों व्यर्थ जान देते हो। यही न होगा कि लोग हँसेंगे सो यह लाज कहाँ तक निबाहोगे ?

चौधरी ने अत्यन्त विनीत हो कर कहा- साहु जी, यह लाज तो मारे डालती है। तुमसे क्या छिपा है। एक वह दिन था कि हमारे दादा-बाबा महाराज की सवारी के साथ चलते थे, अब एक दिन यह कि घर-घर की दीवार तक बिकने की नौबत आ गयी है। कहीं मुँह दिखाने को भी जी नहीं चाहता। यह लो गहनों की पोटली। यदि लोकलाज न होती तो इसे लेकर कभी यहाँ न आता, परन्तु यह अधर्म इसी लाज निबाहने के कारण करना पड़ा है।

झगडू साहु ने आश्चर्य में हो कर पूछा- यह गहने किसके हैं ? चौधरी ने सिर झुका कर बड़ी कठिनता से कहा- मेरी बेटी गंगाजली के। झगडू साहु स्तम्भित हो गये। बोले- अरे ! राम-राम !

चौधरी ने कातर स्वर में कहा- डूब मरने को जी चाहता है।

झगडू ने बड़ी धार्मिकता के साथ स्थिर हो कर कहा- शास्त्रा में बेटी के गाँव का पेड़ देखना मना है।

चौधरी ने दीर्घ निःश्वास छोड़ कर करुण स्वर में कहा- न जाने नारायण कब मौत देंगे। भाई की तीन लड़कियाँ ब्याहीं। कभी भूल कर भी उनके द्वार का मुँह नहीं देखा। परमात्मा ने अब तक तो टेक निबाही है, पर अब न जाने मिट्टी की क्या दुर्दशा होने वाली है।

झगडू साहु ‘लेखा जौ-जौ बखशीश सौ-सौ’ के सिद्धांत पर चलते थे। सूद की एक कौड़ी भी छोड़ना उनके लिए हराम था। यदि एक महीने का एक दिन भी लग जाता तो पूरे महीने का सूद वसूल कर लेते। परन्तु नवरात्र में नित्य दुर्गा-पाठ करवाते थे। पितृपक्ष में रोज ब्राह्मणों को सीधा बाँटते थे। बनियों की धर्म में बड़ी निष्ठा होती है। यदि कोई दीन ब्राह्मण लड़की ब्याहने के लिए उनके सामने हाथ पसारता तो वह खाली हाथ न लौटता, भीख माँगने वाले ब्राह्मणों को चाहे वह कितने ही संडे-मुसंडे हों, उनके दरवाजे पर फटकार नहीं सुननी पड़ती थी। उनके धर्म-शास्त्रा में कन्या के गाँव के कुएँ का पानी पीने से प्यासा मर जाना अच्छा है। वह स्वयं इस सिद्धांत के भक्त थे और इस सिद्धांत के अन्य पक्षपाती उनके लिए महामान्य देवता थे। वे पिघल गये। मन में सोचा, यह मनुष्य तो कभी ओछे विचारों को मन में नहीं लाया।

निर्दय काल की ठोकर से अधर्म मार्ग पर उतर आया है, तो उसके धर्म की रक्षा करना हमारा कर्तव्य-धर्म है। यह विचार मन में आते ही झगडू साहु गद्दी से मसनद के सहारे उठ बैठे और दृढ़ स्वर से कहा वही परमात्मा जिसने अब तक तुम्हारी टेक निबाही है, अब भी निबाहेंगे। लड़की के गहने लड़की को दे दो। लड़की जैसी तुम्हारी है वैसी मेरी भी है। यह लो रुपये। आज काम चलाओ। जब हाथ में रुपये आ जायँ, दे देना।

चौधरी पर इस सहानुभूति का गहरा असर पड़ा। वह जोर-जोर से रोने लगा। उसे अपने भावों की धुन में कृष्ण भगवान् की मोहिनी मूर्ति सामने विराजमान दिखायी दी। वही झगड़ू जो सारे गाँव में बदनाम था, जिसकी उसने खुद कई बार हाकिमों से शिकायत की थी, आज साक्षात् देवता जान पड़ता था। रुँधे हुए कंठ से गद्गद हो बोला-

- झगडू, तुमने इस समय मेरी बात, मेरी लाज, मेरा धर्म, कहाँ तक कहूँ, मेरा सब कुछ रख लिया। मेरी डूबती नाव पार लगा दी। कृष्ण मुरारी तुम्हारे इस उपकार का फल देंगे और मैं तो तुम्हारा गुण जब तक जीऊँगा, गाता रहूँगा।

Short Motivational Story - The Elephant Rope (Belief)


A gentleman was walking through an elephant camp, and he spotted that the elephants weren’t being kept in cages or held by the use of chains. All that was holding them back from escaping the camp, was a small piece of rope tied to one of their legs.

As the man gazed upon the elephants, he was completely confused as to why the elephants didn’t just use their strength to break the rope and escape the camp. They could easily have done so, but instead, they didn’t try to at all.

Curious and wanting to know the answer, he asked a trainer nearby why the elephants were just standing there and never tried to escape.

The trainer replied;

“when they are very young and much smaller we use the same size rope to tie them and, at that age, it’s enough to hold them. As they grow up, they are conditioned to believe they cannot break away. They believe the rope can still hold them, so they never try to break free.”

The only reason that the elephants weren’t breaking free and escaping from the camp was that over time they adopted the belief that it just wasn’t possible.

Moral of the story: No matter how much the world tries to hold you back, always continue with the belief that what you want to achieve is possible. Believing you can become successful is the most important step in actually achieving it.

Wednesday, July 18, 2018

Happy Birthday To You


Many Many Happy Returns of the Day! Hope your special day brings you all that your heart desires! Stay Blessed! 

Sending birthday greetings has become a necessary tradition these days. It can be hard to find the perfect birthday wish for the special birthday boy or girl especially, with so many options. Don’t stress out over what to write in a birthday card.  Make the next birthday you celebrate a special one and personalise your birthday wishes with a handpicked happy birthday quote. Whether you’re looking for a greeting to make someone roll over laughing or a heart-warming tearjerker, these birthday quotes are a great place to start. A genuine birthday wish will surely make anyone’s day. This year, say “Happy Birthday!” with a few words that no one will forget.

When someone near and dear to your heart turns another year older, you’ll want to do everything you can to make their day extra memorable. Whether you’re throwing a birthday party, a cocktail party or planning a dinner at the honoree’s favorite restaurant, it’s tradition to give the guest of honor a Happy Birthday card. As if picking out a card wasn’t tough enough, on top of that you’ll need to craft a happy birthday message too.

When you sit down with a blank greeting card in front of you, don’t be surprised if you can’t seem to put the pen to paper. Many of us get a case of writers block when we sit down to write a birthday card greeting, especially to the people we love the most. Sure, the birthday honoree knows just how much you love and appreciate him or her but, it doesn’t hurt to remind them on their day.

The following birthday quotes will make for the nicest addition to your birthday cards for family and friends. 

Happy birthday my dear friend, may the bright colours paint your life and you be happy forever. Stay blessed.

Happiness begins with your smile and let your smile change the world dear. Happy birthday to you. Have fun.

When nothing goes right, i go to you. You're my go to person at every hour. Happy birthday.

Happy birthday to my idiot friend who is still a kid at heart. Lots of happy returns of the day. 

Nothing can be as joyous as spending time with you, let today be the best of all so far. Happy birthday friend, you are loved.

A friend is someone who always has your back, no matter what. Happy birthday friend, I have yours.

Finding someone perfect isnt friendship, embracing their imperfections and still being their friend is one. Happy birthday dear.

Happy birthday friend, lets continue doing all the stupid things we do together for life.

If I could gift you anything, I would gift you the ability to see yourself through the eyes of others. Happy birthday champ.

Happy birthday, we grew up together doing crazy things and now its time to do bigger ones.

Happy birthday, may this day brings much joy, happiness and health to you. Enjoy.

Happy birthday dear, may this day comes back in your life for a thousand more years.

Having you as my friend is a privilage to me. Happy birthday. You are precious.

Never think you are alone, i am always there for all your fixes. Happy birthday.

Happy birthday to someone who still waits for his birthday like a child every year. The day is finally here. Have fun.

Happy birthday dear. Your parents must be proud of you. We all love you. Keep working hard.

Happy birthday to you, to the one who never lets a day pass gloomy. You are our party animal. Party hard today.

Happy birthday dear. You have been there in my life as a guiding light. Stay blessed.

People come and go but true friends always stay. Happy Birthday Dude.

Your birthday is also mine to celebrate. Happy birthday dear. Lets have fun together today.

I learnt the meaning of true friendship from you. Happy birthday my friend. Always going to be there for you.

Your friendship is like oxygen. Cannot live without it. Happy birthday friend.

Happy birthday idiot, may your day be full of surprises and you cut innummerable cakes.

I cannot imagine how cute you would look with all those cake on your face. Happy birthday to you.

Keep Smiling, Be happy, and make all your dream comes true in coming years. Wish you a very Happy Birthday!

It’s your day! Go, Fly, swim, life beyond the expectations, make unconventional happen, wish you a very happy birthday.

This is a very special milestone in the journey called life. Wish God will make this milestone full of joy and happiness.

It comes once in 365 days, yes I am talking about your birthday. Let’s make it BIG for you with good wishes from us.

Birthday is the day when you reborn, let’s celebrate it big, Happy birthday.

It’s the perfect day to take a new resolution for the upcoming New Year in your life. Wish you a promising birthday.

Wish the upcoming year will be one level up in achieving the impossible in your life. Happy birthday.

Happy birthday to the most beautiful person I have ever meet on this earth. Happy birthday.

I wish this day will be the most special day of your life after receiving countless good wishes from me. Happy birthday, bro.

Don’t ever change, because you are just amazing the way you are. Happy Birthday my Hero.

Here I am wishing birthday the sweetest and coolest person ever I meet. Have the happiest birthday.

Wish you will have an extraordinary birthday like the most outstanding you are. Happy birthday, dear.

You are an amazing person in every way. Keep smiling and enjoy this special day.

I was thinking to gift something cool, funny and amazing, then suddenly I remember you already have me in your life.

Don’t think you are getting older; think how classic you are getting by claiming one more year. Happy birthday!

Happy cake on your face daily. Happy birthday my dear friend.

Yes, it’s a special day, because the kindest and beautiful hearted person was born on this special day. Happy birthday, thanks for joining to our life.

I was thinking since from last month what to send on your birthday. Sorry, you’re inexpressible in words. Happy birthday to you.

Another year has passed, thanks for adding wonderful memories that we add together. Happy birthday, dear.

Smile, Smile, Smile, and keep smiling because of its your birthday here. Happy birthday, dude.

Still, your smile looks sparkling with the few remaining teeth’s that are left. Happy birthday

More candle and cakes are waiting to add happiness on your birthdays. Wish you a very happy birthday.

Congratulation! You have come across one more amazing year. Wishing you a very happy birthday.

Remember age is nothing without number; it’s you who decide how young heart you want to keep. Happy birthday.

Hey, Congratulation, now you are officially too old to drive motorbike with your girlfriend. Happy birthday, bro.

You are like fine wine, getting much better with more time you are spending here on earth. Happy birthday.

Neither you or I can stop the time, all we can do it celebrate a memorable birthday of yours.

It’s been proven that the peoples, who live longer in the earth, celebrate more happy birthdays.

I can’t change the direction of the wind, but I wish to the direction of all happiness changes their direction towards you. Happy Birthday

Let’s light up the candles, cut cakes, and celebrate this special day of your life. It’s party time, Happy birthday.

I wish you will receive all best things in the world in the coming years, and fulfil all your dreams. Wish you a very happy birthday.

Life is too short to think about the past, enjoy the present and live fullest. Happy birthday to my dear friend.

I am feeling awesome to wish birthday to the best soul ever I meet on this planet. Thanks for joining us.

Someone whom I love most was born today. Happy birthday to my dearest one.

Congratulation and celebration, wish you a very happy birthday. May God bless you.

Hey buddy, it’s your birthday today, so no work, only fun and fill it will all things that you love to do. Happy birthday.

On this special day, I wish may your destiny take you everywhere, where you are dreamt of going and making fun. Happy birthday.

Yes, finally it’s your turn to give a party and take loved gifts from us. Happy birthday

Dear Bestie, It’s a new year. All you need to do is take a cosy shelter in some alluring environment with a pillow beneath your feet showing gratitude and to intensify the bliss drop an umbrella in your drink. Happy Birthday To You!

Dear Best Friend, I wish you had a remarkable year ahead and prospered more than anything else in this world. Hope you have your luck as a companion in all circumstances to make the journey of life worthwhile and blessed. Happy B’day!

Dear Buddy, May this birthday of yours comes to be supremely mesmerising as you are and fulfil all your dreams and desires. Wishing You many happy returns of the day! Stay healthy, stay young.

Happy Birthday dear, may you keep smiling and prospering more and more throughout the life. I have never found a friend as good as you in the true sense of the word. This day is as special to me as it is to you.

Happy B’day best friend, today I wish you a prosperous and delightful year ahead. Hope you keep this good health and wealth as well till the last breathe of your journey in this eternal world. Wish you from the core of my heart.

I can never complain about your stupidity because i am equally responsible for the same. Happy birthday to my partner in crime. More mischiefs to come.

Wish God will bless you with everything that you desire to have, will solve every problem in your life, and will give enough strength to fight against the odds. Wish you a very happy birthday.

Forgot the pain, forgive the ignorance, and move forward to add another upcoming new year in your life. Wish you a very happy birthday.

Wish the next 8760 hours of your life will be most amazing hours you have ever spent. Live the life like never before, wishing you a very happy birthday.

When you cut your birthday cake this year, close your eyes and think once how lucky you are receiving countless good wishes from your friends and me. Happy birthday buddy.

My gift is not an iPhone, but countless blessings, good wishes and the good memories that will make your birthday full of happiness. May God bless you, happy birthday.

You are becoming more charming, more beautiful, more amazing with the more age you are gaining. Wish you an evergreen beautiful birthday.

You look startling every time when your birthday cakes smashed into your face. Hope this year the cake will be bigger!! Happy birthday.

I wish that with every addition of candles on your birthday cakes, it also adds thousands of additions of reasons to smile. Have a blessed birthday.

On this special day, I just want to remind you how honestly, truly, madly in love with you. Give me the opportunity to make your day filled with great memories.

Don’t you believe in miracles?, I do, because it’s nothing without god miracles to send such beautiful soul on this special day. Happy birthday.

It’s the year that has gone; it’s the footprints that one leaves on our hearts. And, I am happy to keep another year of good memories with you. Happy birthday.

Happy Birthday to the most Incredibly Precious person in my life, a true gift from God, my dearest friend. Have fun filled and fabulous birthday like every year. Thanks for being my best and loving friend. I wish to be graced with the pleasure of your friendship for years to come.

Our childhood memories are a treasure to me. I cherish each and every moment with you. You were always there for me and supportive many times. Happy Birthday to the greatest inspiration of my life, my best childhood friend. Hope we will be celebrating together for the years to come.

I wish this birthday brings you lots of love, laughter, and happiness in your life. Have a fantastic birthday fulfilling all your dreams, desires and goals this year. I promise to be on your side on all your days. Happy Birthday my one and only bestest person.

Wishing best birthday to the most handsome guy I know. I wish nothing but health, happiness, and exciting adventures this year to you. Hope you get all that you dream and love. You are the best..!!! Happiest Birthday ever..have a blast Rockstar..!!! Lets Party Hard dude..!!!

Happy birthday to the most beautiful and gorgeous soul in my life. Your presence had brought me so much, love, fun, and joy to my life. Wish you have best Birthday pretty girl..!!! May you grow even stronger, ever brighter and even more charming than you are this very moment.

“Count your life by smiles, not tears. Count your age by friends, not years. Happy birthday!”

“Happy birthday! I hope all your birthday wishes and dreams come true.”

“A wish for you on your birthday, whatever you ask may you receive, whatever you seek may you find, whatever you wish may it be fulfilled on your birthday and always. Happy birthday!”

“ Another adventure filled year awaits you. Welcome it by celebrating your birthday with pomp and splendor. Wishing you a very happy and fun-filled birthday!”

“May the joy that you have spread in the past come back to you on this day. Wishing you a very happy birthday!”

“Happy birthday! Your life is just about to pick up speed and blast off into the stratosphere. Wear a seat belt and be sure to enjoy the journey. Happy birthday!”

“This birthday, I wish you abundant happiness and love. May all your dreams turn into reality and may lady luck visit your home today. Happy birthday to one of the sweetest people I’ve ever known.”

“May you be gifted with life’s biggest joys and never-ending bliss. After all, you yourself are a gift to earth, so you deserve the best. Happy birthday.”

“Count not the candles…see the lights they give. Count not the years, but the life you live. Wishing you a wonderful time ahead. Happy birthday.”

“Forget the past; look forward to the future, for the best things are yet to come.”

“Birthdays are a new start, a fresh beginning and a time to pursue new endeavours with new goals. 

Move forward with confidence and courage. You are a very special person. May today and all of your days be amazing!”

“Your birthday is the first day of another 365-day journey. Be the shining thread in the beautiful tapestry of the world to make this year the best ever. Enjoy the ride.”

“Be happy! Today is the day you were brought into this world to be a blessing and inspiration to the people around you! You are a wonderful person! May you be given more birthdays to fulfill all of your dreams!”

“Happy birthday! May your Facebook wall be filled with messages from people you never talk to.”

“You’re older today than yesterday but younger than tomorrow, happy birthday!”

“Forget about the past, you can’t change it. Forget about the future, you can’t predict it. Forget about the present, I didn’t get you one. Happy birthday!”

“Cheers on your birthday. One step closer to adult underpants.”

“Happy birthday to one of the few people whose birthday I can remember without a Facebook reminder.”

“Happy birthday to someone who is smart, gorgeous, funny and reminds me a lot of myself… from one fabulous chick to another!”

“Don’t get all weird about getting older! Our age is merely the number of years the world has been enjoying us!”

“As you get older three things happen. The first is your memory goes, and I can’t remember the other two. Happy birthday!”

“You are only young once, but you can be immature for a lifetime. Happy birthday!”

“On your birthday, I thought of giving you the cutest gift in the world. But then I realized that is not possible, because you yourself are the cutest gift in the world.”

“Happy birthday to someone who is forever young!”

“It’s birthday time again, and wow! You’re a whole year older now! So clown around and have some fun to make this birthday your best one. Happy birthday!”

“Just wanted to be the first one to wish you happy birthday so I can feel superior to your other well-wishers. So, happy birthday!”

“Congratulations on being even more experienced. I’m not sure what you learned this year, but every experience transforms us into the people we are today. Happy birthday!”

“When the little kids ask how old you are at your party, you should go ahead and tell them. While they’re distracted trying to count that high, you can steal a bite of their cake! Happy birthday!”

“Wishing you a day filled with happiness and a year filled with joy. Happy birthday!”

“Sending you smiles for every moment of your special day…Have a wonderful time and a very happy birthday!”

“Hope your special day brings you all that your heart desires! Here’s wishing you a day full of pleasant surprises! Happy birthday!”

“On your birthday we wish for you that whatever you want most in life it comes to you just the way you imagined it or better. Happy birthday!”

“Sending your way a bouquet of happiness…To wish you a very happy birthday!”

“Wishing you a beautiful day with good health and happiness forever. Happy birthday!”

“It’s a smile from me… To wish you a day that brings the same kind of happiness and joy that you bring to me. Happy birthday!”

“On this wonderful day, I wish you the best that life has to offer! Happy birthday!”

“I may not be by your side celebrating your special day with you, but I want you to know that I’m thinking of you and wishing you a wonderful birthday.”

“I wish for all of your wishes to come true. Happy birthday!”

“Many years ago on this day, God decided to send an angel to earth. The angel was meant to touch lives and that happened! Happy birthday my sweet angel!”

“Sending you a birthday wish wrapped with all my love. Have a very happy birthday!”

“ Happy birthday to you. From good friends and true, from old friends and new, may good luck go with you and happiness too!”

“A simple celebration, a gathering of friends; here wishing you great happiness and a joy that never ends.”

“It’s always a treat to wish happy birthday to someone so sweet.”

“Happy birthday to one of my best friends. Here’s to another year of laughing at our own jokes and keeping each other sane! Love you and happy birthday!”

“On this special day, I raise a toast to you and your life. Happy birthday.”

“You look younger than ever! Happy birthday!”

“Words alone are not enough to express how happy I am you are celebrating another year of your life! My wish for you on your birthday is that you are, and will always be, happy and healthy. Don’t ever change! Happy birthday my dear.”

I can’t believe how lucky I am to have found a friend like you. You make every day of my life so special. It’s my goal to make sure your birthday is one of the most special days ever. I can’t wait to celebrate with you!”

“A friend like you is more priceless than the most beautiful diamond. You are not only strong and wise, but kind and thoughtful as well. Your birthday is the perfect opportunity to show you how much I care and how grateful I am to have you in my life. Happy birthday!”

“I hope that today, at your party, you dance and others sing as you celebrate with joy your best birthday.”

Happy birthday! May you have a special day filled with joy and a year filled with bliss. 

Happy birthday! Wishing you a smile for every precious second of your special day.

Happy birthday. Have a truly wonderful time on your special day. 

Hoping your special day grants every birthday wish you have in mind. Happy birthday.

May you receive everything that your wonderful, big heart desires! 

Wishing you a special day full of all that brings you joy! Happy birthday!

Happy birthday! On your special day and all year-round, enjoy whatever you want most from life. 

May what you wished for arrive exactly the way you expected. Happy birthday!

Sending your way a special day full of joy, laughter and, most of all, love. Happy birthday!

Wishing you a day so special that you remember it always. Happy birthday.

Good health and happiness all your days...and double on your special day. Happy birthday!

May the joy you bring everyone you know be returned to you in spades. Happy birthday!

On your special day, I wish you the finest things that life can offer you, starting with all the love you deserve! Happy birthday!

Happy birthday! Although I may not be with you on your special day, I would like you to know that I only have great memories of everything we've done up to this point...and hope you create even more today.

May all your birthday wishes come true just the way you want them to. Happy birthday!

When you were born, we knew that God had sent us a beautiful angel. And you've only become more angelic with every passing year, bringing joy to our lives. Happy birthday, our lovable angel!

Wishing you all the gifts life has to offer you, wrapped with all the love I can give...now and forever. Happy birthday!

Happy birthday. From one true friend to another, may good health, great fortune and incredible joy follow you all your days.

For me, it's an honor and privilege to wish you, someone so special in my life, the best of birthdays. Have the best ever.

A very happy birthday to one of my greatest friends ever. 

On your special day, I would like to raise a glass of the finest to you and your future. May this glass be full all your days. Happy birthday.

Happy birthday! You're looking more beautiful than ever! It must be your beautiful personality.

Happy birthday! Words alone cannot express how much you mean to me and how much it means to me to celebrate another year of your wonderful life! 

On your birthday, I only have one important wish for you. Be happy, be health and be wise today and always. Happy birthday.

Finding a friend like you was one of the luckiest things in my life. You make my life awesome. 
Hoping I can make your birthday and the rest of your life just as amazing. Happy birthday.


Have the very happiest of happy birthdays!

Hoping your birthday is as heavenly as you are!

You deserve only the finest...today and all year long!

May your birthday be filled with the guiltiest of pleasures!

Let's make your this birthday one for the record books!

May the force be with you on this birthday!

Another year older, another reason to tell you how special you are.

My warmest wishes and my deepest love on your birthday and forever!

Wishing you a blessed birthday, year and life.

Hope your birthday bestows you with more happiness, love and fun than you ever thought you could take...and then some! You deserve it all. Enjoy your special day!

May you have such an incredibly special birthday that every day afterward starts and ends with joy, love, laughter and peace of mind.

Happy birthday. May the next 12 months of the year be the happiest of your life. Hope every day is packed with memories that you'll treasure evermore.

Hope your birthday brings you whatever you want. You deserve happiness, love and, most of all, fun on your special day.

Have a great birthday with all the love, laughter and joy you deserve.

May this birthday and the coming year bring you good surprises — filled with sunshine, smiles and sweethearts.

Hope you create and enjoy heaps of beautiful birthday memories to cherish your entire life. Happy birthday.

On your special day, you should only have the good luck that comes with family and friends. Happy birthday.

Hope your special day fills up your heart and soul with joy, wonder and love.

I only have the best birthday blessings for you — today and forever. Happy birthday.

Have an amazing birthday. Be sure to celebrate whatever brings you bliss and contentment.

May your birthday be filled with hours upon hours of joy and love. Happy birthday.

Happy birthday! May you have the best of luck on your special day, bringing you the joy, peace and wonder you so rightfully deserve. 

Happy birthday! It's time for you to have an amazing birthday and savor the joy, love and peace we aim to bring you.

May every moment of your birthday be the happiest you've ever had — and may your happiness spill over to every other day of the year. 

May your life be a series of fortunate events with countless happy birthdays, starting with this one.

Happy birthday. Let’s light your birthday candles and mark the most special day of the year — your birthday.

Happy birthday. Hope you begin your special day with a gigantic smile on your beautiful face — and it only gets bigger and bigger with each hour of your birthday. 

Here's to your special day. Let's make it a truly special celebration. Happy birthday.

Happy birthday. May all your dreams become what you truly want.

Happy birthday. May every dream of yours set your life on fire, brightening up today, your special day, and every other day of the year.

Have an amazing birthday. Light your birthday candles and wish upon a star or all the stars in the sky (you certainly deserve everything coming to you).

With this birthday, you're a little older and a lot more wonderful. Have the happiest of special days.

Every year, you become greater in every way that really matters. Have a great birthday.

May your special day be packed with all the joy, peace and glory you wish for. Happy birthday.

Light and blow out each candle on your birthday cake...not because it's what people do, but to celebrate another special day of your extraordinary life. Happy birthday.

You're very special — and you should know it. So I will let you how much every second of your special day. Happy birthday.

Wishing you a very, very happy birthday. You don’t need to do a thing — I will make it happen for you. You're the best. I love you.

There are so many beautiful things I want to say about you…every day. Today, though, I have only one — happy birthday, beautiful.

You and I are a great team. Together, we are champions. Happy birthday, champ.

The years have been more than kind to you. They've been miraculous. You are a beautiful person, inside (where it mostly counts) and outside.

I treasure every memory we've created together. I look forward to creating even more, starting with your birthday. Let's celebrate until we don't remember a thing. Happy birthday.

You're a wonderful person who has always deserved only the best of everything, nothing less. Happy birthday.

Wishing you a birthday celebration that's as amazing as you are to everyone you know and love. Happy birthday.

Your birthday should be a national holiday, so we can both get the day off from work and celebrate your special day from sunrise to sunset. Happy birthday.

Another birthday, another year you've been blessed with more of everything that makes you an amazing individual. Happy birthday.

Everyone deserves to have a special day, at least once a year on their birthday. Special people like you deserve to have a special birthday celebration in their honor, every day of the year. Happy birthday.

You are the truest friend I've ever had. You've always had my back, supporting me when everyone else I know has left me high and dry. You're the best, and the best you shall have on your special (if I have anything to do with it...and I will). Happy birthday.

May your birthday set your life on fire and light up your path to inner joy, well-being and love.

You may be growing older every year, but you're the same person — perfect as ever. Happy birthday.

Happy birthday. May you only enjoy the best things that life can offer — because you are definitely one of the best.

Happy birthday. I always wanted a great person like you in my life. Now that you're in my life, we can do many great things together for a lifetime.

There's no better best friend than you in my world. Happy birthday.

Happy birthday. May the start of a new year in your life bring you every bit of happiness, health and prosperity you deserve.

Happy birthday. To celebrate this special day in your life, we have brought you the most lovely and delicious birthday cake. And today, we are going to have it and eat it too — every single morsel.

Happy birthday. Now’s the time to remember, so let's celebrate your special day in the most special of ways — with joy, with fun, with love and, most of all, with loads of birthday cake.

Wishing you a very happy birthday, not because I have to but because I want to. You're one of the finest people I know.

Happy birthday. Thank you for all the memories — from our yesterdays, from today and from all our tomorrows.

Have a beautifully wonderful birthday, the only kind of special day someone like you should have.

Your birthday should be a national holiday, so all the people who know and love you can have a day off to celebrate your arrival into our lives. Happy birthday.

Another birthday, another year older and, most importantly, another reason to celebrate you all day and all night. 

Happy birthday. So what if you're getting older. It's just the age of your machinery. The you that is you — your heart and soul — is still truly young at heart, still the ever-optimistic Peter Pan. That's a wonderful way to be.

Happy birthday. May only the world's greatest treasures — love, joy, adventure and peace — be yours, today and every day.

It’s your birthday, and you can laugh and sing if you want to (you can even cry but that's no fun). I plan to make you laugh and sing harder than you've ever had in your life. That's because your birthday is a major cause for celebration.

Sure, with every birthday, you get a little older. But you also get the wisdom to see what's truly beautiful, truly full of joy, truly yours to celebrate.

From one hopeful dreamer to another, may you have the happiest of birthdays, the kind that wishful thoughts are made of.

Birthdays come and go so fast, before we even realize that the day we were born is truly a special one. Let's make your special day especially about you. Let's celebrate you.

To thank you for all the beautiful memories we've shared, I will make your birthday this year the most unforgettable of all, moment by moment, until the wee hours of the night. Let's start now!

I'm glad we have years of memories to keep us warm, fuzzy and happy. Thankfully, we have so many more ones to create, starting today, on your birthday! Let's make your special day extraordinarily unforgettable (in a good way, of course).

I'm more than proud to call you my friend — I'm grateful, honored, blessed, overjoyed, fortunate and humbled. Happy birthday.

Happy birthday, bro. You may not be the perfect brother but you are as close to perfect to me.

I'm pretty sure that no one I know comes closer to my ideal of a beautiful, natural woman than you. Not even me. Happy birthday to a truly great human being (you).

Darling, I love you so, so, so much. May the sunshine of our undying love shine dazzlingly on your special day and forever. Happy birthday.

Our love will never get old. That's because, together, we're forever young. May we always drink from the fountain of youth. Happy birthday, darling!

As far as fathers go, you’re simply awesome. Of course, I'm slightly biased since I'm your child, the recipient of your awesomeness. Happy birthday to the most awesome Dad!

When God created friends, He made them in your image...the best friend anyone can ever have. Happy birthday, BFF!

Happy birthday, my friend! The world stopped spinning for a moment on the day you were born, just long enough for you to make your debut. I'm so glad you came into my orbit and made my world truly wonderful.

Birthdays come once a year, but a sister like you is a once-in-a-lifetime gift. I'm incredibly fortunate to have you as my sister...and my best friend. I love you. Happy birthday, sis!

Grandpa, today is your birthday. Today is the day you started to touch the lives of others in the most important way — with love and kindness. I'm glad I can count myself as one of the lucky many. Happy birthday. I love you dearly.

In the dictionary, there's a word for senseless acts of love, kindness, wisdom, intelligence, beauty and generosity: Grandma! Happy birthday, Grandma! You're all those things to me!

My life belongs to you. My heart belongs to you. My love belongs to you. I belong to you. Let's make your special day truly all about you. Happy birthday! I love you. 

You're sweeter than the sweetest song and more beautiful than beauty itself. Thanks for making my world truly sweet and beautiful. I love you madly. Happy birthday, my dearest.

Take every birthday wish you've received today, multiply all the love you found in them by 1,000, then add years of joy, wonder and prosperity to the mix...and it still wouldn't equal all the love, joy, wonder and prosperity I wish for you.

Wishing you, my best friend, the best of birthdays — with the best of me by your side every step of the way to make sure.

You've always done everything right your whole life. On your special day, let yourself go and do everything wrong, but be sure to savor every wickedly wonderful moment of it all. 

Happy birthday, son! I plan to make your birthday as special, exciting, beautiful and all-around amazing as you are to me, starting now! 

Happy birthday, darling! You're the best daughter anyone could ever wish for. Thank you for choosing me as your partner in fun on your special day. We will definitely have some unforgettable, unbelievable memories to share for a lifetime.  

Mom, you've always believed in me, even when I didn't, even when nobody did. I have you to thank for all the great things in my life. Happy birthday! I love you!

Happy birthday. Give yourself a break from all your troubles and let yourself fully enjoy your special day — after all, it's the only day of the year that you can get away with it.

For your special day, I have only two birthday wishes for you: now and forever. Be happy in the now, so you'll be happy forever!

Any day we can live our lives to the fullest is a gift. Savor every moment of your special day, because you'll have to wait another 364 days to feel as special. Happy birthday.

Wishing you the greatest birthday ever.

Wishing one of the best individuals I know the very best birthday.

Your age makes no difference. You do. Every day. Happy birthday.

Hope you have a wonderful birthday that lasts all year round!

Happier birthdays come to dreamers who dare to take action. Like you.

Happy birthday balloon, cake, candles, ice cream and present day!

Happy birthday! May joy be your companion everywhere you go.

Happy birthday! It's time for your BIG birthday bash! Let's get started!

Take the time to have a bright, sunshiny, fun-filled birthday!

You're one today...You're finally allowed to have your birthday cake and eat it — with your hands. Happy birthday!

Happy 16th birthday! You're truly amazing, truly unique, truly fun, truly independent, truly 16. Truly.

Happy birthday! Turning 40 is not so bad when you consider the alternative: turning 50, 60, 70, 80, 90 or 100.

Happy birthday! Let’s turn your 50th birthday into a celebration you'll never forget (or, if you're lucky, you'll forget entirely). And there's no better time to get started than right this second!

Whoever said you're 60 years old is just wrong. You're actually a 30 year old with 30 years of mind-numbing, mind-altering, mind-bending, mind-boggling, mind-blowing, mind-expanding, never-mind life experience. Happy birthday!

Happy 100th birthday! This is not a milestone because you have 100 years of life, love and memories under your belt. It's because of you. You're the most incredible person I've ever known...and will ever know.

When you turn 21, you can legally do what you've done illegally since you were 13. Let’s drink up!

Happy birthday. From the depths of my blissful soul to the peak of my unbridled passion, I wish you the happiest of special days, my love!

Happy birthday! Hope you have thousands of reasons to see the thousands of unforgettable moments your special day can bring you.

Speaking of a half century, how are you? Feeling old today? Don’t — you’re as old and cool as the first Mustang built a half century ago! Happy 50th birthday!

It’s that time again…your 29th birthday! Happy birthday. You look so mature for your age.

For someone who's just turned 80, you only look a day over 79. Seriously, though, you look and act even younger than any 60 year old I know. Happy birthday!

On your special day, look back at all the wonderful moments we’ve shared — and look forward to even more amazing ones yet to share. Happy birthday.

You forever make me smile! Now it's my turn to give you something to smile about on your special day. Happy birthday.

BFF, you have a very special place in my heart. Because it's your special day, I only have heartfelt birthday wishes for you. Have a truly wonderful birthday.

Happy birthday! You know everything about me but you still think I'm special. I know everything about you and I think you're even more special with every birthday of yours. 

May all your birthday wishes come to life — as soon as you blow out every candle on your birthday cake. 

If anyone deserves to experience joy, peace and wonder to the fullest, it’s you. Happy birthday!

Every day may be the first day of the rest of your life, but your birthday was your very first. Celebrate it as if there were no tomorrows. Happy birthday.

Friends don't let friends celebrate their birthdays by themselves. Let's get your party started. Happy birthday, BFF!

Happy birthday. You may still be young enough to be reckless, but you're now old enough to be charged as an adult for it.

Happy birthday! If you ever feel regret, may it never be from what you have not said, done or felt.

We fit together like two halves of the same soul, far greater than the sum of our separate selves. Happy birthday. I love you.

Happy birthday! May your special day be as warm as the sunlight, as breezy as the wind and as right as rain. 

Mom, when I say there’s no one who compares to you, I mean it. You’re honestly one of a kind. The best kind. Happy birthday!

Birthdays are special — it's a special day that inspires you to appreciate how far you've journeyed in life and how close you are to the next wonderful adventure.

Your birthday is the perfect time to stop brooding over the thorns in life and promise yourself the rose garden of your dreams.

Here's to a birthday full of life and a life full of happy birthdays!

Happy birthday. May you live to be so old that the mere sight of you is enough to scare young children and horrify ex-lovers.

Happy birthday! Wherever you are, I want to be. Wherever you go, I want to follow. Wherever you stop, I want to rest. 

People say that with age comes wisdom. I don’t know about you but I’d rather be young and stupid than old and wise. Happy birthday!

I thought about giving you something you’d treasure the rest of your life but what’s the point of spending money on a gift that’s only good for a few years. Happy birthday, old fart!

Don’t think about how old you are. Think how blessed you are. Think about all the experiences you've had in life — both good and bad — that have brought you this far. Here’s to life! Happy birthday!

Happy birthday! Today, celebrate the day you were born. Every day, celebrate life.

Sure, a day off from work would make your birthday super special but a year off your age would make everyone super jealous. Happy birthday.

Happy birthday! Hope this special day is the start of your most special year ever!

Birthdays are nature's way of telling you that eating more cake is stupid, especially when you have to look in the mirror the next morning. Have a special (and carb-free) day!

On your special day, I have the perfect gift for you, a gift that’s guaranteed to get you through thick or thin, feast or famine, sink or swim and all or nothing: my undying love (and my credit card, if necessary). Happy birthday!

Sure, good friends remember your birthday and forget your age. But great friends remember your birthday and get you smashed to the point you forget your own age. Happy birthday! Let’s party, BFF!

If the love you take is equal to the love you make, you must be the world's most loved and loving person. I’m glad I get to bask in the sunshine of your love. Happy birthday!

Great things do happen to great people — especially on their special day — and you're certainly one of the greatest people I know and love. Happy birthday!

Happy birthday. As you get older, losing your memory bit by bit is certain. Forgetting everything that once made you miserable is certainly better.

You wear your age well — it looks great on you. I would love to try your inner fountain of youth on for size and see if it fits me. Happy birthday.

Happy birthday! For most people, wisdom comes with age. For others, it's prosperity. For everyone I know, it just means getting older. Good luck with the first two.

For your special day, I have good news and bad news. The good news is I don't have any bad news. The bad news is that I don't have any good news. Anything can happen.Don't you just love birthdays? Not.

There's only one thing I like about you: everything. Happy birthday!

Happy birthday. You mean more to me than my favorite thing in the world. Considering it's chocolate, that's saying a lot.

Despite how much you try to blend in, it's only natural for you to stand out. That's something you should be celebrating. Happy birthday!

Your birthday doesn't mean you're another year older — it means you have another year to celebrate. Happy birthday.

You're not getting older. You're getting a pension. Happy birthday.

If you're fortunate enough to have a pal like you, then you're me. Happy birthday to my best friend.

You are a role model for the truly one of a kind. You were born an original! Happy birthday.

Happy birthday! Hope your special day is as beautiful as you are and bestows you with twice as much as you wished for!

Happy birthday. Every year you get closer and closer to who you really are, what you truly want to be. Now that's really something to wish for.

Happy birthday. May your heart beat true with the joy, love and laughter you bring to everyone around you.

My life would not be as magical without a niece like you. Happy birthday from the bottom of my heart.

Whenever you feel alone or scared, don't forget that we will also always be there for you. Happy birthday, sweetheart.

Our love for you is immeasurable — not even Google or Wikipedia could tell you how much we love you. Have an amazing birthday!

Sweetheart, I love you so much, not only because you're my niece, but also because you're an incredible person who brings magic to everyone's lives, especially mine. Happy, happy, happy birthday!

Happy birthday, darling. You're such a wonderful person who deserves everything great that life has in store for you. Be happy always.

Happy birthday. As your Aunt, it's my duty to spoil you rotten with love...and anything else you may want on your special day (or any day).

Nephews may come in different shapes and sizes, but you come in only one: you're the world's greatest nephew. Happy birthday.

I've tried over and over again to refrain from spoiling you with everything you want but it's no use — you're just too wonderful a nephew to stop myself. Happy birthday.

Every birthday of yours reminds us how fortunate we are to have you as a nephew. Every year, we feel more fortunate. Happy birthday, dear nephew.

Once again, we have the honor and privilege to celebrate your birthday with you. We are surely blessed. Happy birthday, wonderful nephew.

Happy birthday. If there were more incredible nephews like you, most people would stop trying to have children of their own. We're glad we have you as OUR incredible nephew.

Happy birthday to an amazing nephew. You've become a very special person, filled with so much love and kindness. You make the world a better place. We love you dearly.

Happy birthday. God does not care about the candles on your birthday cake or the money you have in your bank account — only the faith, love and hope in your heart. Bless your lovely, faithful and hopeful heart.

We were all made in God's image. When you smile, I can see God in your eyes, the window to your beautiful soul. Happy birthday.

God may have brought you into this world in your birthday suit, but that doesn't mean you shouldn't try to keep it fit for life. Have a happy and healthy birthday.

God gives you joy. You give God joy. May you only know joy on your birthday!

May God bless you all your days, and doubly so on your special day. Happy birthday!

Happy birthday. May God keep you young at heart and beautiful of mind.

Happy birthday. It gives me great pleasure to see that God has blessed you with another year of life. May you be blessed with many more.

Each birthday is a gift of love, joy and wonder from God. Celebrate to your heart's content and your soul's fulfilled. Happy birthday.

Happy birthday. May God bless you with years upon years of joy, health, wonder and faith!

Happy birthday to the best client anyone could ever have. May your brightest ideas become a reality.

Wishing you the very best birthday and the most successful year ever.

Happy birthday! Working with you and your team has been the highlight of my career.

It’s "Happy Birthday" time! Wishing you only the best of everything on your birthday and in the year ahead.

Happy birthday! May your special day be the beginning of a year blessed with good fortune, good health and great joy.

On behalf of our entire team, I wish you the happiest of birthdays.

It’s a pleasure doing business with you! I hope your birthday is filled with everything that gives you pleasure.

Happy birthday! Just wanted to say that I'm glad you and I get to work together every day of the week! I look forward to working with you for many birthdays to come.

Happy birthday! We truly appreciate the chance to work with you and look forward to working together for many more of your birthdays.

Happy birthday! It's always been a pleasure working with you! We greatly appreciate your business.

We're so fortunate to have a client like you. Happy birthday! 

Loyalty, commitment, trust and honestly are merely words but you and your team give them real meaning 24/7. Happy birthday!

These birthday quotes are a great place to start, but don’t think you have to stick with only what’s written here. Personalize the sentiment even more with an inside joke or special moment between you and the birthday boy or girl. Sending a heartfelt birthday card with the right intentions can make all of the difference on someone’s big day. Make them feel special with the simplest birthday wish from you! Also, before you go, don’t feel limited to just using these birthday quotes for cards. You can print them on décor pieces and hang them around the party, use them on birthday party invitations or however you’d like. Get ready to celebrate my dear Friends.

Stay Fit, Take Care & Keep Smiling :-)

God Bless

अग्नि-समाधि - मुंशी प्रेमचंद

साधु-संतों के सत्संग से बुरे भी अच्छे हो जाते हैं, किन्तु पयाग का दुर्भाग्यथा, कि उस पर सत्संग का उल्टा ही असर हुआ। उसे गाँजे, चरस और भंग क...